Press "Enter" to skip to content

gale me sujan में राहत पहुंचाएंगे आसान उपाय

अक्सर कई कारणों से हमें gale me sujan और दर्द से परेशानी होने लगती है। आमतौर पर यह संक्रमण के कारण होता है,

जिससे गले में मौजूद लिंफ नोड्स में सूजन आ जाती है और दर्द होने लगता है।

लिंफ नोड्स में होने वाले इस दर्द और सूजन को कुछ आसान घरेलू नुस्खों द्वारा घर पर ही ठीक किया जा सकता है। इस सूजन कम करने के लिए गर्म पानी से सिंकाई करें।

gale me sujan
gale me s

बता दें कि जब गर्म तापमान का संपर्क शरीर के दूसरे अंगों से होता है, तब शरीर का रक्त संचार बढ़ जाता है और सूजन कम हो जाती है।ऐसे में पानी को गर्म कीजिए और उसमें साफ कपड़े को भिगोकर सूजन वाली जगह पर पांच से 10 मिनट के लिए रखें।

जब तक सूजन खत्म न हो जाए, इस प्रक्रिया को दिन में कई बार दोहराएं। गर्म पानी से सूजन वाली जगह की सफाई भी कर सकते हैं। गले या जबड़े में पाई जाने वाली लिंफ नोड में सूजन है,

तो नमक के पानी का गरारा करने से जल्द आराम मिलता है।दरअसल, नमक और पानी लिंफ नोड की सूजन को कम कर देता है। इसके लिए एक कप पानी को हल्का गर्म कर लीजिए, उसमें आधा चम्मच नमक मिलाइए और फिर इस पानी से गरारा कीजिए।

सूजन कम होने तक दिन में कई बार इसे दोहराएं। लहसुन में एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं, जो किसी भी तरह के संक्रमण को आसानी से दूर करते हैं। इसके लिए लहसुन की दो-तीन कलियों का सेवन कीजिए। खाने में भी लहसुन का प्रयोग कीजिए।

अगर समस्या ज्यादा गंभीर है, तो लहसुन के तेल से दिन में दो-तीन बार मालिश करें। इससे जल्द आराम मिलेगा। इसके अलावा सेब का सिरका लिंफ नोड की सूजन कम करने के लिए बहुत प्रभावशाली माना जाता है।

यह शरीर के पीएच लेवल को बढ़ा देता है, जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है।इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण संक्रमण से भी बचाते हैं। इसके लिए सेब के सिरके को बराबर मात्रा में पानी में मिलाकर एक कपड़े को इसमें भिगोकर सूजन वाली जगह पर लगाएं।

इसे दिन में दो बार प्रयोग करें। इसके अलावा एक चम्मच सेब का सिरका, एक चम्मच शहद को पानी में मिलाकर सेवन करने से आराम मिलता है।

gale me sujan
ये भी पढ़े

Diabetes Diet: Blood Sugar के स्तर के बारे में चिंता किए बिना Diabetes के रोगी सभी फलों का आनंद ले सकते हैं

2 Comments

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *